10th Social Science Subjective Questio

10th Social Science Subjective Question 2024 | Matric History Subjective Question Answer 2024

Social Science

10th Social Science Subjective Question 2024 :- दोस्तों यहां पर बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा 2024 ( Bihar Board Matric Exam 2024 ) के लिए सामाजिक विज्ञान (इतिहास) का सब्जेक्टिव प्रश्न उत्तर दिया गया है यदि आप लोग मैट्रिक परीक्षा 2024 की तैयारी कर रहे हैं तो कक्षा 10 हिंद-चीन में राष्ट्रवादी आंदोलन का लघु उत्तरीय प्रश्न( class 10th hind-chin mein rashtrawadi aandolan laghu uttariy prashn ) यहां पर किया गया है जो कि आने वाले परीक्षा के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है साथ ही इस वेबसाइट पर सभी सब्जेक्ट का ऑब्जेक्टिव एंड सब्जेक्टिव प्रश्न( Bihar Board Class 10th All Subjective Ka Objective And Subjective Question 2024 ) दिया गया है जिससे आप 2024 में बेहतर तैयारी कर सकते हैं

Join For Latest News And Tips

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Matric Exam 2024 Whatsapp Group


10th Social Science Subjective Question 2024

प्रश्न 1. ‘एकतरफा अनुबंध व्यवस्था’ क्या थी?

उत्तर ⇒ अनुबंध व्यवस्था’ एक तरह की बंधुआ मजदूरी थी। वहाँ मजदूरों का कोई अधिकार नहीं थी, जबकि मालिक को असीमित -अधिकार प्राप्त थे। रबर बागानों के खेतों और खानों में मजदूरों से एकतरफा अनुबंध व्यवस्था पर काम लिया जाता था ।


प्रश्न 2. बाओदायी कौन था ?

Join For Latest News And Tips

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

उत्तर ⇒ बाओदायी पूर्व में अन्नान का शासक था । गुरिल्ला युद्ध का लाभ उठाते हुए फ्रांस ने पेरिस से बाओदायी को बुलाकर वियतनाम का शासक बना दिया।


प्रश्न 3. हिंद-चीन का अर्थ क्या है?

उत्तर ⇒ हिंद- चीन के अंतर्गत आज के वियतनाम, लाओस और कम्बोडिया के क्षेत्र आते हैं। इसकी उत्तरी सीमा म्यांमार एवं चीन को छूती है तो दक्षिण में चीन सागर है और पश्चिम में म्यांमार क्षेत्र पड़ता है। हिंद-चीन का तात्पर्य तत्कालीन 2.8 लाख किमी में फैले उस प्रायद्वीप क्षेत्र से है


प्रश्न 4. जेनेवा समझौता कब और किनके बीच हुआ?

उत्तर ⇒ जेनेवा समझौता मई, 1954 ई० में हिंद- चीन समस्या पर वार्ता हेतु बुलाये गए सम्मेलन में हुआ। इसमें वियतनाम को दो हिस्सों में बाँट दिया गया तथा लाओस तथा कम्बोडिया में वैद्य राजतंत्र को स्वीकार कर संसदीय शासन प्रणाली को अपनाया गया ।


प्रश्न 5. जापानी सेना हिंद-चीन के कब हटी?

उत्तर ⇒ द्वितीय विश्वयुद्ध में अमेरिका द्वारा जापान पर परमाणु बम गिराने के साथ ही जापान ने आत्मसमर्पण कर दिया। इसके बाद जापानी सेना हिंद – चीन से हट गयी ।


प्रश्न 6. वियतनाम का विभाजन कब हुआ?

उत्तर ⇒ 1954 ई० में जेनेवा समझौते के अनुसार वियतनाम का दो भागों में विभाजन हुआ। उत्तरी वियतनाम में हो – ची मिन्ह की सरकार तथा दक्षिणी वियतनाम में बाओदायी की सरकार बनी


प्रश्न 7. हिंद-चीन उपनिवेश स्थापना का उद्देश्य क्या था?

उत्तर ⇒ फ्रांस द्वारा हिंद-चीन में उपनिवेश की स्थापना के निम्नलिखित उद्देश्य थे-

(i) व्यापारिक सुरक्षा-फ्रांस को अंग्रेज एवं डच व्यापारिक कम्पनियों से प्रतिस्पर्द्धा थी। भारत और चीन में वे अंग्रेज से पिछड़ते जा रहे थे। अंग्रेजी प्रभाव नहीं होने से हिंद-चीन फ्रांसीसियों के लिए व्यापारिक एवं आर्थिक दृष्टिकोण से अधिक सुरक्षित था।

(ii) आर्थिक कारण-वियतनाम कृषि प्रधान देश था जहाँ चावल और रबर का बहुत अधिक उत्पादन होता था। यहाँ विभिन्न प्रकार के खनिज पदार्थ जैसे—कोयला, टिन, जस्ता, क्रोमियम इत्यादि उपलब्ध थे। इन संसाधनों का उपयोग कर फ्रांसीसी अपने उद्योग का विकास कर सकते थे। इससे फ्रांस को बड़ा विदेशी बाजार भी मिल सकता था

(iii) सभ्य बनाने की नीति अन्य यूरोपीय राष्ट्रों की तरह फ्रांसीसी भी पिछड़ों एवं असभ्यों को सभ्य बनाना चाहते थे। इन सभी कारणों से फ्रांस हिंद-चीन में अपने उपनिवेश की स्थापना करना चाहता था


Matric History Subjective Question Answer 2024

प्रश्न 8. माईली गाँव की घटना क्या थी? इसका क्या प्रभाव पड़ा?

उत्तर ⇒ दक्षिणी वियतनाम में एक गाँव था माई – ली, जहाँ अमेरिकी सेना ने पूरे गाँव को घेरकर पुरुषों को वियतनाम समर्थक समझकर मार डाला। औरतों बच्चियों को बंधक बनाकर कई दिनों तक सामूहिक बलात्कार किया, फिर उन्हें मारकर पूरे गाँव में आग लगा दी लाशों के बीच एक बूढ़ा जिंदा बच गया था, जिसने इस घटना को उजागर किया था।

अन्तर्राष्ट्रीय दबाव बढ़ता ही जा रहा था। उसी समय माइली गाँव की घटना प्रकाश में आयी। अमेरिकी सेना की आलोचना पूरे विश्व में होने लगी। तब राष्ट्रपति निक्सन ने शांति के लिए पाँचसूत्री कार्यक्रम की घोषणा की।


प्रश्न 9. हो ची मिन्ह मार्ग क्या है? बताएँ ।

उत्तर ⇒ वियतनामियों की रसद सप्लाई मार्ग हो ची मिन्ह मार्ग था । हो ची मिन्ह मार्ग हनोई से चलकर लाओस, कंबोडिया की सीमा क्षेत्र से , गुजरता हुआ दक्षिणी वियतनाम तक जाता था, जिससे कच्ची-पक्की सड़क निकलकर जुड़ी थी। अमेरिकी कई बार उसे क्षतिग्रस्त कर चुका था । किन्तु, वियतनामी उसे तुरंत मरम्मत कर लेते थे। इस मार्ग पर नियंत्रण करने के उद्देश्य से अमेरिका ने लाओस, कंबोडिया पर आक्रमण कर दिया था। परंतु, तीन तरफा संघर्ष में फँसकर उसे वापस होना पड़ा था ।


प्रश्न 10. अमेरिका हिंद-चीन में कैसे घुसा ? चर्चा करें।

अथवा, अमेरिका हिंदी-चीन में कैसे दाखिल हुआ ? चर्चा करें।

उत्तर ⇒ अमेरिका हिंद-चीन में फ्रांस को समर्थन देने के बहाने घुसा और धीरे-धीरे साम्यवादियों के विरोध में हस्तक्षेप की नीति अपनाई । इन्हीं परिस्थितियों में मई 1954 ई. में जेनेवा में हिंद चीन समस्या पर वार्ता हेतु बुलाया गया जिसे जेनेवा समझौता के नाम से जाना जाता है। जेनेवा समझौते ने पूरे वियतनाम को दो हिस्सों में बाँट दिया— उत्तरी और दक्षिणी वियतनाम उत्तरी वियतनाम में हो ची मिन्ह के नेतृत्व में साम्यवाद समर्थित सरकार बनी, जबकि दक्षिणी वियतनाम में अमेरिका समर्थित पूँजीवादी सरकार बाओदायी के नेतृत्व में बनी अमेरिका समर्थित बाओदायी सरकार का संचालन न्यो- दिन्ह – दियम के हाथों में था।


प्रश्न 11. हो ची मिन्ह के बारे में संक्षिप्त में लिखें।

उत्तर ⇒ 1917 ई० में हो ची मिन्ह ( एक वियतनामी छात्र) ने पेरिस में साम्यवादियों का एक गुट बनाया। बाद में, हो ची मिन्ह शिक्षा प्राप्त करने मास्को गया और साम्यवाद से प्रेरित होकर 1925 ई० में वियतनामी क्रांति दल का गठन किया। अंतत: 1930 ई. में वियतनाम के बिखरे राष्ट्रवादी गुटों को एकजुट कर ‘वियतनाम कांग सान देंग’ अर्थात् वियतनाम कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना की जो पूर्णतः उग्र विचारों पर चलने वाली पार्टी थी।

1954 ई. में जेनेवा समझौता के तहत वियतनाम को दो भागों में बाँट दिया गया। उत्तरी वियतनाम में हो ची मिन्ह की सरकार बनी।


प्रश्न 12. हिंद-चीन में फ्रांसीसी प्रसार का वर्णन करें।

उत्तर ⇒ 17वीं शताब्दी में बहुत से फ्रांसीसी व्यापारी पादरी हिंद-चीन पहुँच गए। 1747 ई० के बाद से फ्रांस अन्नाम में रुचि लेने लगा। 1787 ई० में कोचीन को चीन के शासक के साथ संधि का मौका मिला। 19वीं शताब्दी में अन्नाम कोचीन चीन में फ्रांसीसी पादरियों की बढ़ती गतिविधियों के विरुद्ध उग्र आंदोलन हो रहे थे। फिर भी, 1862 ई० में अन्नाम को सैन्य बल पर संधि के लिए बाध्य किया गया। उसके अगले वर्ष कंबोडिया भी संरक्षण में ले लिया गया और 1883 ई० में तोकिन में फ्रांसीसी सेना का प्रवेश हुआ। इसी तरह 20वीं शताब्दी के आरंभ तक संपूर्ण हिंद-चीन फ्रांस की अधीनता में आ गया।


प्रश्न 13. प्रथम टेलीविजन युद्ध क्या था ?

उत्तर ⇒ उत्तरी वियतनाम में संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा की जाने वाली सैनिक कार्यवाही के दृश्य अमेरिका में टेलीविजन पर समाचार कार्यक्रमों में दिखाए जाते थे, जिन्हें देखकर अमेरिकी जनता को वियतनामी जनता के दुःख दर्द का अहसास होने लगा और अपनी सरकार से मोहभंग होने लगा। इस युद्ध के दृश्य टेलीविजन पर दिखाए जाने के कारण इसे प्रथम टेलीविजन युद्ध कहते हैं।


Bihar Board 10th Social Science Subjective Question 2024

प्रश्न 14 नापाम और एजेन्ट ऑरेंज क्या था ?

अथवा, रासायनिक हथियारों एवं एजेन्ट ऑरेंज का वर्णन करें ।

उत्तर ⇒ अमेरिका ने कम्बोडिया में जटरीला एवं वियतनाम में नापाम बम तथा एजेंट ऑरेंज रासायनिक हथियारों का प्रयोग संघर्ष के दौरान किया जो अत्यन्त घातक एवं पर्यावरण के लिए नुकसानदेह थे ।

नापाम बम में नापाम नामक एक कार्बनिक यौगिक होता है जो अग्नि Hi में गैसोलन के साथ मिलकर एक ऐसा मिश्रण तैयार करता है जो त्वचा से चिपक जाता है और चलता रहता है । इससे विषैली गैस भी निकलती है ।

एजेन्ट ऑरेंज एक ऐसा जहर है जिससे पेड़ों की पत्तियाँ तुरंत झुलस जाती हैं एवं पेड़ मर जाता है। जंगलों को खत्म करने में इसका प्रयोग किया जाता है । इसका यह नाम ऑरेंज पट्टियों वाले ड्रमों में रखे जाने के कारण पड़ा। वियतनाम युद्ध में अमेरिका ने इसका इस्तेमाल जंगलों के साथ-साथ खेतों तथा आबादी पर भी जमकर किया। उस क्षेत्र में इसका असर जन्मजात विकलांगता तथा कैंसर के रूप में आज भी देखी जा सकती है ।


History Important Question  Bihar Board 12th Result 2023 : बिहार बोर्ड 12वीं रिजल्ट यहाँ से करें डाउनलोड
Chapter Name Objective Que Subjective Que Long Subjective
1. यूरोप में राष्ट्रवादClick HereClick HereClick Here
2. समाजवाद एवं साम्यवाद Click HereClick HereClick Here
3. हिंद – चीन में राष्ट्रवादी आंदोलनClick HereClick HereClick Here
4. भारत में राष्ट्रवादClick HereClick HereClick Here
5. अर्थव्यवस्था और आजीविका Click HereClick HereClick Here
6. शहरीकरण एवं शहरी जीवनClick HereClick HereClick Here
7. व्यापार और भूमंडलीकरणClick HereClick HereClick Here
8. प्रेस- सांस्कृति एवं राष्ट्रवादClick HereClick HereClick Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *